Zindagi Shayari in Hindi, Zindagi ke har dukh ko

Zindagi Shayari in Hindi

मेरे एक सवाल पर ए जिन्दगी
तेरे हजारों जवाब होंगे
मगर बस एक वही नही
जो में ढूंढ राही हूं।


Mere ek sawal par ek zindagi
Tere hazaro jawab honge
Magar bas ek wahi nahi
Jo mein dund rahi hu


नीले आकाश की चादर ओढ़
में यूं ही डूबती चली गईं
जिंदगी के हर दुख को में
पानी की तरह पी गई ।


Nile aakash ki chadar odh
Mein yun hi dubti chali gayi
Zindagi ke har dukh ko mein
Paani ki tarah pi gayi

Zindagi Shayari in Hindi

तूझे शायद पता हो ना हो
ए जिंदगी
मेरे हौसले काफी नेक हैं
तू भले ही मुकर जाना मुझसे
में और मेरी हिम्मत एक है।


Tujhe sayad pata ho na ho
Ae zindagi
Mere hosle kaafi nek hai
Tu bhale hi mukar jaana mujhse
Mein aur mere himmat ek hai

Zindagi Shayari in Hindi

जब जब दुनिया में
खुद को अकेला पाया है
तब तब सब का असली चहरा
सामने आया है


Jab jab duniya mein
Khud ko akele paya hai
Tab tab sab ka asli chehra
Samne aaya hai


नदियों की तरह बहना चाहती हूं
पंछी की तरह उड़ना चाहती हूं
में आज़ाद हूं
आजाद ही रहना चाहती हूं।


Nadiyon ki tarah behna cahahti hu
Panchi ki tarah udna chahti hu
Mein aazad hu
Aazad hi rehna chahti hu


दोस्ती एक हसीन एहसास है
दोस्ती एक आस है
वही खुश है इस जहां में
एक दोस्त जिसके पास है


Dosti ek haseen ehsas hai
Dosti ek aas hai
Wahi kush hai iss jahan mein
Ek dost jiske paas hai

Zindagi Shayari in Hindi

तू खोया है
तेरे सपने नहीं
वो चले गए छोड़ कर
जो तेरे अपने नही
तू बस करना वही
जो हो तेरे लिए सही ।


Tu khoya hai
Tere sapne nahi
Wo chale gaye chod kar
Jo tere aapne nahi
Tu bas karna wahi
Jo ho tere liye sahi

Zindagi Shayari in Hindi

-by Vaishali Dosad

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.